Atal Pension Yojana New Update 2022: करोड़ों भारतीयों के लिए बुढ़ापे की राहत है मोदी सरकार की ये योजना, जानिए निवेश से जुड़ी जानकारी

HomeSchemeAtal Pension Yojana New Update 2022: करोड़ों भारतीयों के लिए बुढ़ापे की राहत है मोदी सरकार की ये योजना, जानिए निवेश से जुड़ी जानकारी

Atal Pension Yojana New Update 2022: अटल पेंशन योजना यह योजना सभी असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए है। इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपको 20 साल तक निवेश करना होगा और यह निवेश आप 18 से 40 साल की उम्र तक कर सकते हैं।

अगर आप प्राइवेट नौकरी करते हैं और बुढ़ापे में किसी पर बोझ नहीं बनना चाहते हैं तो आप केंद्र सरकार की अटल पेंशन योजना ( Atal Pension Yojana ) में निवेश करके अच्छी पेंशन पा सकते हैं। इस योजना के तहत कुछ राशि का निवेश करने वालों को 60 साल बाद 1000 रुपये से 5000 रुपये के बीच मासिक पेंशन दी जाएगी।

नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा 1 जून 2015 को शुरू की गई इस पेंशन योजना को कोई भी ले सकता है। यहां बता दें कि अटल पेंशन योजना की राशि मिलना इस बात पर निर्भर करेगा कि लाभार्थी ने कितना प्रीमियम भरा है। इसके साथ ही यह भी जानना जरूरी है कि आपने किस उम्र में निवेश करना शुरू किया है।

20 साल के लिए करना होता है निवेश

2022 की शुरुआत केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने 1 जून 2015 को की थी। इस योजना में 18 से 40 वर्ष की आयु के लोग शामिल हो सकते हैं, योजना ( Atal Pension Yojana ) में शामिल होने पर आपको 60 वर्ष की आयु तक प्रीमियम राशि यानि किश्त जमा करनी होगी। निवेश की गई राशि के आधार पर, पेंशन 1000 रुपये से लेकर 5000 रुपये तक होती है।

पात्रता और आवश्यक दस्तावेज

  • आवेदक एक भारतीय नागरिक होना चाहिए
  • उम्मीदवार की आयु 18 से 40 वर्ष होनी चाहिए
  • आवेदक के पास एक बैंक खाता होना चाहिए और बैंक खाता आधार कार्ड से जुड़ा होना चाहिए
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • पहचान पत्र
  • स्थायी पते का प्रमाण
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए बैंक में खाता होना अनिवार्य है
  • केवल वही नागरिक जो आयकर स्लैब से बाहर हैं, अटल पेंशन योजना ( Atal Pension Yojana ) का लाभ उठा सकते हैं

जानिए ये अहम बात

  • अगर अटल पेंशन योजना का निवेशक अनुदान नहीं देता है, तो उसका खाता 6 महीने बाद फ्रीज कर दिया जाएगा।
  • अगर निवेशक ने कोई निवेश नहीं किया है तो 12 महीने बाद उसका खाता निष्क्रिय कर दिया जाएगा।
  • जबकि 24 महीने यानी 2 साल बाद उनका अकाउंट बंद हो जाएगा.
  • यदि आवेदक समय पर भुगतान करने में विफल रहता है, तो उसे दंड का भुगतान करना होगा। नियमानुसार यह जुर्माना 1 रुपये से 10 रुपये प्रति माह है।

18-40 साल के बीच कोई भी निवेश कर सकता है

अटल पैशन योजना का लाभ उठाने के लिए कम से कम 20 साल यानी 60 साल की उम्र तक निवेश करना होगा। योजना ( Atal Pension Yojana ) के तहत कोई भी भारतीय नागरिक इसका लाभ उठा सकता है। 18 साल से 40 साल की उम्र तक कोई भी निवेश कर सकता है। नियमानुसार अटल पेंशन की राशि 60 वर्ष की आयु के बाद प्रदान की जाती है। इस योजना के तहत 1000, 2000, 3000 और 5000 की पेंशन दी जाएगी।

नियमों के मुताबिक अटल पेंशन योजना ( Atal Pension Yojana ) में 60 साल से पहले निकासी का कोई प्रावधान नहीं है। विभाग की ओर से प्रतिकूल परिस्थितियों में इसकी अनुमति दी गई है। उदाहरण के लिए, यदि निवेशक की मृत्यु हो जाती है, तो यह राशि निकाली जा सकती है।

असमय मृत्यु पर आश्रित को मिलता है लाभ

अटल पेंशन योजना के तहत पेंशन की राशि व्यक्ति द्वारा किए गए निवेश और उम्र के हिसाब से तय की जाती है। अन्य बीमा और पेंशन योजनाओं की तरह अटल पेंशन योजना में भी कोई भी व्यक्ति असमय मृत्यु होने पर अपने परिवार को लाभ उठा सकता है।

EPFO को मिल सकती है ज्यादा पेंशन

राज्य कर्मचारी निगम के तहत करीब 6 करोड़ कर्मचारी हैं, लेकिन उन्हें अच्छी पेंशन नहीं मिलती है। ऐसे में कुछ निजी कर्मचारियों ने भी अटल पेंशन योजना ( Atal Pension Yojana ) में निवेश किया है और ऐसा कर रहे हैं. मार्च 2022 तक अटल पेंशन योजना के तहत 99 लाख खाते खोले जा चुके हैं। वर्तमान में योजना के तहत कुल खातों की संख्या 4.01 करोड़ है।

अटल पेंशन योजना ( Atal Pension Yojana ) निकासी

60 साल पूरे होने के बाद ग्राहक अटल पेंशन योजना ( Atal Pension Yojana ) से निकासी कर सकता है। ऐसे में ग्राहक को पेंशन निकासी के बाद पेंशन मुहैया कराई जाएगी। वहीं अगर निवेशक की मृत्यु हो जाती है तो पेंशन की राशि निवेशक के जीवनसाथी को दी जाएगी। इतना ही नहीं अगर दोनों की मौत हो जाती है तो नॉमिनी को पेंशन वापस कर दी जाएगी।